Blogger vs WordPress in Hindi ब्लॉगर vs वर्डप्रेस

Blogger vs WordPress

Blogger vs WordPress कौन ज्यादा अच्छा है दोस्तों जब भी ब्लॉगिंग करने की बात आए तो हम कंफ्यूज हो जाते हैं कि कौन ज्यादा अच्छा है किस पर ब्लॉग बनाने से ऐडसेंस जल्दी अप्रूव होगा या कौन रैंकिंग के लिए सबसे बेस्ट है और कई सारे डाउट हमारे आस पास घूमते हैं

चलिए जानते हैं Blogger vs WordPress ke bare me

Blogger क्या होता है जाने पूरी जानकारी

ब्लॉगर एक फ्री का ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है और यह गूगल का प्रोडक्ट है ब्लॉगर पर आप फ्री में कंटेंट राइटिंग कर सकते हो और अपनी नॉलेज को लोगों तक पहुंचा सकते हो और अगर आप नए हो और आप ब्लॉगिंग शुरू करना चाहते हैं तो

मैं आपको बता देना चाहता हूं ब्लॉगर सबसे बेस्ट है क्योंकि जब आपको ब्लॉगिंग के बारे में अच्छा खासा नॉलेज हो जाए तब आप वर्डप्रेस पर मूव कीजिए तो अभी हम जानेंगे ब्लॉगर के फायदों के बारे में

ब्लॉगर के फायदे blogger ke fayde in hindi

  • Blogger ब्लॉगर का पहला फायदा: अगर आप ब्लॉगर पर अपना ब्लॉग बना रहे हैं तो सबसे बड़ा बेनिफिट यह है कि ब्लॉगर पर आपको सुरक्षा या सिक्योरिटी पूरी 100% मिलेगी क्योंकि यहां पर हम अपना ब्लॉग जो है उसे गूगल के सर्वर पर रन करवा रहे हैं और हमें पता ही है यह गूगल का सिक्योरिटी सिस्टम कितना स्ट्रांग है और जो भी हम ब्लॉग बनाएंगे उसका सारा डाटा गूगल के सर्वर के अंदर से होगा
  • ऐडसेंस: ब्लॉगर पर ऐडसेंस का अप्रूव मिलना थोड़ा आसान है ब्लॉगर एक गूगल का प्रोडक्ट है ऐडसेंस भी गूगल के प्रोडक्ट इसलिए गूगल ब्लॉगर पर जल्दी अप्रूवल दे देता है लेकिन अगर आपने थोड़ी भी गलती करी आपने कुछ ऐसा वैसा कंटेंट पोस्ट किया तो गूगल आपकी पोस्ट पर ऐड दिखाना बंद कर देगा
  • कस्टमाइज के ऑप्शन: ब्लॉगर पर आपको कस्टमाइज के ऑप्शंस बहुत कम मिलते हैं क्योंकि यह एक फ्री प्लेटफार्म में और यहां पर आपको एडिट के कम ऑप्शंस मिलते हैं और यहां पर आप अपने हिसाब से एडिट नहीं कर सकते हां कर तो सकते हैं लेकिन कोडिंग आना जरूरी है उसके लिए या फिर आप कोई एक पैड थीम भी लेते हैं तो या तो वह सपोर्ट नहीं करती को सपोर्ट कर भी जाती है तो आपको एडिट एक कम ऑप्शंस मिलते हैं
  • होस्टिंग: ब्लॉगर एक फ्री प्लेटफार्म है तो यहां पर आपको होस्टिंग नहीं खरीदनी पड़ती बस आप यहां पर 300 से ₹400 में एक डोमेन खरीद कर अपनी साइट चला सकते हैं और नहीं भी खरीददेंगे तो भी आप अपना कंटेंट लिख सकते हैं
  • ब्लॉगर को चलाना आसान होता है क्योंकि यहां चीजें बहुत सरल तरीके से समझ में आ जाती है और इन्हें सीखने में ज्यादा समय भी नहीं लगता

अब बात करते हैं वर्डप्रेस के बारे में WordPress in hindi

वर्डप्रेस एक पेड़ प्लेटफार्म है यहां पर आपको लॉग इन करने के लिए किसी थर्ड पार्टी कंपनी की होस्टिंग लेनी होगी फिर आपको उस होस्टिंग में वर्डप्रेस इंस्टॉल करके ब्लॉगिंग स्टार्ट करनी होगी अब चलिए जानते हैं वर्डप्रेस में क्या क्या फीचर है और क्या यह ब्लॉगर से बेहतर है या नहीं

वर्डप्रेस के फायदे WordPress ke fayde
  • सिक्योरिटी WordPress security वर्डप्रेस यहां पर आपको अपनी साइड के सिक्योरिटी खुद को ही करनी पड़ती है जब आप यहां पर  थीम इंस्टॉल करते हैं तो आपको पता नहीं रहता कि इस प्लगइन और थीम में कौन सा भाग है जो आपकी साइट को हानि पहुंचा सकता है इसके कारण आपकी साइट कभी भी हैक हो सकती है और जिस भी थर्ड पार्टी कंपनी का थीम और प्लगइन है वह आप के प्रत्येक कार्य पर पूरी नजर रखते हैं अगर आपको एक सिक्योर साइट बनानी है तो मैं आपको रिक्वेस्ट करूंगा कि आप ब्लॉगर पर ही साइट बनाएं
  • ऐडसेंस WordPress AdSense वर्डप्रेस पर आपको फूली ऐडसेंस अप्रूवल मिलता है और अगर आप कभी भी एक और वेबसाइट बनाते हो तो आप उसमें भी अपने पहले वाले ऐडसेंस को जोड़ सकते हैं जबकि ब्लॉगर में ऐसा नहीं होता है और अगर आप अपनी साइट में कुछ ऐसा अनलीगल कॉन्टेंट डालते हो जो गूगल की पॉलिसी के खिलाफ है तो यहां पर आपका ऐडसेंस डिसेबल हो जाता है लेकिन ब्लॉगर में ऐसा नहीं होता वहां पर सिर्फ आपके साइड में एड दिखना बंद हो जाते हैं
  • फीचर WordPress featur हमें वर्डप्रेस में कई सारे प्लगिंस मिलते हैं जिसमें हम अपने काम को थोड़ा ब्लॉगर के मुकाबले बेहतर और आसान बना सकते हैं आपको यहां पर बहुत ज्यादा मात्रा में एडवांस लेकिन मिलते हैं जो ब्लॉगर से कई गुना ज्यादा बेहतर है
वर्डप्रेस पर होस्टिंग खरीदनी पड़ती है
  • WordPress theme थीम. वर्डप्रेस पर आपको हजारों की मात्रा में थीम्स मिल जाती है बहुत सारी थीम फ्री भी होती है और कई सारी प्रीमियम लेकिन यहां पर आप अपने फील्ड के अनुसार इंस्टॉल कर सकते हैं फीचर के मामले में वर्डप्रेस बेहतर है ब्लॉगर के मुकाबले.
  • WordPress hosting . वर्डप्रेस पर आपको किसी एक थर्ड पार्टी कंपनी की होस्टिंग लेनी होगी जिसकी कीमत 1 साल की लगभग 3 से ₹4000 होगी इसके बाद आपको इस होस्टिंग में वर्डप्रेस को इंस्टॉल करना होगा लेकिन वर्डप्रेस पर अगर आपकी साइट पर रोज 5000 या 25 हजार का ट्रैफिक आ रहा है तो वर्डप्रेस पर आपकी साइट का सर्वर को डाउन हो जाएगा और अगर आपको अपनी साइट का सर्वर बाद में मजबूत और बेहतर करना है तो आपको अपनी होस्टिंग कंपनी को हर साल ₹10000 या इससे ज्यादा देकर अपने सर्वर को दूसरे सर्वर में डलवाना होता है जिसके बाद आपकी साइट का सर्वर कभी भी डाउन नहीं होता है चाहे कितना भी ट्रैफिक आता हो लेकिन ब्लॉगर में आप कितना भी कंटेंट डालो या कितना भी ट्रैफिक आए कोई भी फर्क नहीं पड़ता है
  •  वर्डप्रेस पर एसीओ WordPress Seo कहीं बेहतर है ब्लॉगर के मुकाबले क्योंकि ब्लॉगर पर हमें हमारी पोस्ट का Seo हुआ है या नहीं हुआ है का पता नहीं चलता लेकिन वर्डप्रेस पर आपको कई सारे फ्री और प्रीमियम Seo प्लगइन मिल जाते हैं जिनका इस्तेमाल करके आप एक संपूर्ण Seo-friendly पोस्ट लिख सकते हैं लेकिन ब्लॉगर पर कतई ऐसा नहीं होता है
ब्लॉगर vs वर्डप्रेस दोनों ही बढ़िया प्लेटफॉर्म है

कुल मिलाकर घुमा फिरा के बात यहीं आ जाती है कि Blogger vs WordPress दोनों ही प्लेटफॉर्म्स बढ़िया है अगर आपका बजट नहीं है तो आप ब्लॉगर का इस्तेमाल कर सकते हैं और अगर आपका बजट हैं तो आप वर्डप्रेस का इस्तेमाल कर सकते हैं आप दोनों से ही कमाई कर सकते हैं बस आपको वर्डप्रेस पर कस्टमाइज करने के ज्यादा ऑप्शंस मिलते हैं और आप जैसी चाहे अपने दिमाग के अनुसार अपनी साइट को डिजाइन कर सकते हैं जबकि ब्लॉगर पर ऐसा नहीं होता है तो तो अब आप समझ गए होंगे Blogger vs WordPress के बारे में