Categories: Full form's

IAS Ka Full Form – IAS Kaise Bane? आईएएस फुल फॉर्म

IAS Ka Full Form ( आई ए एस का फुल फॉर्म ) – Indian Administrative Service ( भारतीय प्रशासनिक सेवा )

IAS Kya hai ( What is IAS )

आईएएस एक भारतीय प्रशासनिक सेवा है, जिसे ऑफिशियल रूप से सिविल सर्विस परीक्षा के रूप में जाना जाता है IAS परीक्षा का आयोजन संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा प्रतिवर्ष किया जाता है।UPSC परीक्षा के माध्यम से IAS, IFS और IPS के साथ भर्ती किया जाता है। इसे बहुत कठिन परीक्षा माना जाता है मतलब एक डिफिकल्ट एग्जाम। भारतीय वन सेवा (IFS) और भारतीय पुलिस सेवा (IPS), के साथ, IAS तीन अखिल भारतीय सेवाओं में से एक है। चलिए अब जानते हैं आईएएस के बारे में विस्तार से

IAS Kaise Bane? (How to become a IAS)

“आईएएस” बनने के लिए कठिन मेहनत की आवश्यकता होती है। साथ ही आपको ग्रेजुएट होना भी जरूरी है, हां अगर आप इसी साल ग्रेजुएट की डिग्री हासिल करने वाले हैं, तो भी आप इस परीक्षा का हिस्सा बन सकते हैं।

जैसा हम सबको पता हैं कि आईएएस अधिकारी अखिल भारतीय सेवाओं का एक हिस्सा हैं, वे भारत सरकार के साथ-साथ राज्य के Cadres की भी उनके Deputation के आधार पर सेवा करते हैं। ब्रिटिश शासन काल के समय इसे भारतीय (ICS) इंपीरियल सिविल सर्विस कहा जाता था। और स्वतंत्रता के बाद, ICS को IAS में बदल दिया गया।

IAS अधिकारी बनने के लिए आवश्यक है शैक्षणिक योग्यता किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से डिग्री होनी चाहिए।

सीधी भर्ती (Direct recruitment)- (UPSC) भारत के संघ लोक सेवा आयोग को IAS, IPS और कुछ प्रमुख ग्रुप सेवाओं के साथ IAS अधिकारियों की भर्ती का कार्य सौंपा जाता है। UPSC प्रतिष्ठित सिविल सर्विस परीक्षा केwमाध्यम से अखिल भारतीय सेवा और केंद्रीय सेवा के अधिकारियों की भर्ती होती है। और उनका आवंटन भारत सरकार द्वारा राज्यों को कर दिया जाता है।

UPSC क्या है

साथियों UPSC ka full form Union Public Service Commission होता है इसको हिंदी में संघ लोक सेवा आयोग कहते हैं जैसा कि मैंने आपको बताया कि इस संस्था मुख्य काम ग्रुप A और ग्रुप B जैसी श्रेणियाे को सिविल सेवाओं के लिए मुख्य रूप से भर्ती करना होता है

UPSC के बारे में आप इस लिंक पर क्लिक करके संपूर्ण जानकारी जान सकते हो

परीक्षा से संबंधित जानकारियां यहां से जाने https://www.upsc.gov.in/

IAS अधिकारीयों के कार्य

आईएएस अधिकारी उसके अधीन आने वाले क्षेत्र में कानून व्यवस्था, राजस्व प्रशासन और सामान्य प्रशासन के रखरखाव के लिए जिम्मेदार है। वैसे तो आईएएस अधिकारी के बहुत सारे कार्य होते हैं लेकिन कुछ प्रमुख कार्य कुछ इस प्रकार है। :-

  1. राजस्व का संग्रह और राजस्व मामलों में अदालत के रूप में कार्य।
  2. कानून व्यवस्था बनाए रखना।
  3. मुख्य विकास अधिकारी (coD) / जिला विकास आयुक्त के रूप में कार्य करना।
  4. कार्यकारी मजिस्ट्रेट के रूप में कार्य करना।
  5. नीतियों के कार्यान्वयन की देखरेख के लिए स्थानों की यात्रा करना।
  6. नीतियों और राज्य सरकार और केंद्र सरकार के कार्यान्वयन का पर्यवेक्षण।
  7. वित्तीय स्वामित्व के मानदंडों के अनुसार सार्वजनिक धन के व्यय का पर्यवेक्षण।
  8. नीति निर्माण और निर्णय लेने की प्रक्रिया में , संयुक्त सचिव , उप सचिव आदि जैसे विभिन्न स्तरों पर IAS अधिकारी अपना योगदान देते हैं और नीतियों को अंतिम रूप देते हैं।
  9. सरकार के दैनिक मामलों को संभालना , जिसमें मंत्री – मंत्रालय के परामर्श से नीति के निर्धारण और कार्यान्वयन शामिल हैं।

IAS अधिकारियों की कमाई

नए वेतन ढांचे ने ’सिविल सेवाओं के लिए वेतन ग्रेड’ की प्रणाली के साथ वितरण किया है और 7 वें केंद्रीय वेतन आयोग में ‘समेकित वेतन स्तर’ की शुरुआत की। अब IAS pay scale केवल DA मूल वेतन ’पर TA, DA और HRA के साथ तय किया जाता है।

एक IAS अधिकारी का मूल वेतन हर महीने 5,6,100 रु। से शुरू होता है (TA, DA, और HRA अलग से हैं) और 2,50,000।रु। तक जाता हैं

वेतन स्तरमूल वेतन (INR)सेवा में आवश्यक वर्षों की संख्याजिला प्रशासनराज्य सचिवालयकेंद्रीय सचिवालय
1056100 रु1-4उप प्रभागीय न्यायाधीशअवर सचिवसहायक सचिव
1167,7005-8अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेटउप सचिवअवर सचिव
1278,800 रु9-12जिला अधिकारीसंयुक्त सचिवउप सचिव
13 1,18,500 है13-16जिला अधिकारीविशेष सचिव-सह-निदेशकनिदेशक
141,44,200 है16-24संभागीय आयुक्तसचिव-सह-आयुक्तसंयुक्त सचिव
151,82,200 रु25-30संभागीय आयुक्तप्रमुख सचिवअपर सचिव
162,05,40030-33कोई समतुल्य रैंक नहींअपर मुख्य सचिवकोई समतुल्य रैंक नहीं
172,25,000 रु34-36 हैकोई समतुल्य रैंक नहींप्रमुख शासन सचिवसचिव
182,50,000 रु37+ वर्षकोई समतुल्य रैंक नहींकोई समतुल्य रैंक नहींभारत के कैबिनेट सचिव

एक IAS अधिकारी बनना बहुत ही गौरव की बात है, और यह नागरिकों और राष्ट्र के लिए एक बड़ी जिम्मेदारी है।

एक आईएएस अधिकारी की शक्तियां

IAS का जॉब प्रोफाइल बहुत ही Broad होता है और यह बहुत Powerful Post है IAS, एक डीएम के रूप में काफी ज्यादा Powerful होता है। एक IAS (डीएम) के पास District के सभी departments की जिम्मेदारी होती है। डीएम के रूप में एक IAS अधिकारी, पुलिस विभाग के साथ साथ अन्य विभागों का भी मुखिया होता है।

पूरे जिले की पुलिस व्यवस्था की जिम्मेदारी भी DM के पास ही होती है। शहर में curfew, धारा 144 और Law and Order से जुड़े सभी फैसले DM ही लेता है। भीड़ पर Firing का आदेश भी DM ही दे सकता है। इतना ही नहीं पुलिस Officers के तबादले के लिए भी DM के Approval की आवश्यकता होती है।

IAS Ka Full Form FAQs

  1. IAS Ka Full Form

    Indian Administrative Service

  2. IAS Full Form in Hindi

    भारतीय प्रशासनिक सेवा

  3. What is full form of IPS

    Indian Police Service

आशा करते हैं IAS Ka Full Form आपको समझ में आ गया होगा

Share
Published by
Teamkakainfo