UPSC Full Form (What is UPSC) UPSC फुल फॉर्म 2021

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका एक बार फिर से kakainfo के एक नए ब्लॉग में और आज मैं आपको इस ब्लॉग में यूपीएससी से संबंधित संपूर्ण जानकारी जैसे upsc full form, यूपीएससी क्या है, यूपीएससी में परीक्षा देने के लिए कितनी योग्यता होना आवश्यक है, यूपीएससी की परीक्षा देने की क्या उम्र होनी चाहिए, यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी कैसे करें,

यूपीएससी में कितनी प्रकार की परीक्षाएं होती है, और भी यूपीएससी से संबंधित कई सारे सवालों का जवाब मैं आपको इस संपूर्ण लोग में देने वाली हूं तो आप ही से लास्ट तक जरूर पढ़ें ताकि आपको आपके संपूर्ण सवालों के जवाब मिल जाए लेकिन आपको upsc के बारे में जानने से पहले psc के बारे में समझना होगा तभी आप यूपीएससी के बारे में समझ पाओगे तो चलिए शुरू करते हैं

Contents hide

upsc फुल फॉर्म इन हिंदी (what is upsc full form in hindi ):-

साथियों upsc ka full form Union Public Service Commission होता है इसको हिंदी में संघ लोक सेवा आयोग कहते हैं जैसा कि मैंने आपको बताया कि इस संस्था मुख्य काम ग्रुप A और ग्रुप B जैसी श्रेणियाे को सिविल सेवाओं के लिए मुख्य रूप से भर्ती करना होता है

Upsc क्या है (What is upsc in hindi) :-

भारत देश की आजादी के बाद 26 अक्टूबर 1950 में लोक सेवा आयोग (psc) में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव किए गए और इसमें काम करने वाले अधिकारियों की संख्या और बढ़ा दी गई लेकिन फिर भी इस संस्था का काम वही था प्रथम एवं द्वितीय श्रेणी के अधिकारियों का चयन करना लेकिन जब psc मैं अधिकारियों की संख्या बढ़ा दी गई तो इसका नाम बदल कर upsc कर दिया गया इस प्रकार यूपीएस से तब्दील होकर यूपीएससी नाम बना था

अब यूपीएससी भारत सरकार की एक ऐसी प्रमुख संस्था बन गई है जो संपूर्ण भारत के लिए भर्ती एजेंसी के रूप में काम करती है,अब upsc संपूर्ण भारत देश के लिए परीक्षाओं का आयोजन करता है और साथ ही इसका प्रमुख कार्य सभी भारतीयों को सेवाओं के लिए नियुक्त करना है

और इन सेवाओं में भारत की लगभग सभी सर्वश्रेष्ठ सेवाएं और परीक्षा इसमें सम्मिलित है इस संस्था में सम्मिलित कुछ प्रमुख सेवाएं भी है जिनके लिए यूपीएससी प्रमुख परीक्षाओं का आयोजन भी करता है इनमें से IAS, IPS, IRS और इनके अलावा इनसे संबंधित कई प्रकार की सरकारी नौकरियां जो इन परीक्षाओं में शामिल है इसके अलावा ग्रेड ए ग्रेड बी के अधिकारियों की भी भर्ती की जाती है

Psc क्या है (What is PSC in hindi) :-

psc क्या है सबसे पहले मैं आपको pac की फुल फॉर्म बताती हूं, psc full form, public service Commission या फिर हिंदी में कहो तो लोक सेवा आयोग कहते हैं

इस संस्था की शुरुआत भारत की आजादी से भी पहले 1 अक्टूबर 1926 में हुई थी यह सरकार के द्वारा बनाई गई एक ऐसी संस्था है जिसका मुख्य कार्य प्रथम एवं द्वितीय श्रेणी के अधिकारियों का चयन करना है चलिए अब मैं आपको बताती हूं की psc आगे चलकर upsc मैं कैसे तब्दील हुआ.

भारतीय संविधान का जो अनुच्छेद 315 है यह संघ और राज्यों के लोक सेवा आयोग (public service Commission) से संबंधित अनुच्छेद है और वही भारतीय संविधान का 316 अनुच्छेद सदस्यों के कार्यालयों की नियुक्ति और कार्यालय से संबंधित अनुच्छेद है और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है की संघ लोक सेवा आयोग(Union Public Service Commission) की स्थापना भारतीय संविधान के 315 अनुच्छेद के तहत हुई है

UPSC की फुल फॉर्म अलग-अलग भाषाओं में :-

languagefull form Short form
UPSC Full formUnion Public Service CommissionUPSC
UPSC Full form in EnglishUnion Public Service CommissionUPSC
UPSC Full form in Hindiसंघ लोक सेवा आयोग
UPSC full form in marathiनागरी सेवा परीक्षा माहिती
UPSC Full form in tamilஇந்தியக் குடியியல் பணிகள் தேர்வு
upsc full form in teluguయూనియ‌న్ ప‌బ్లిక్ స‌ర్వీస్ క‌మిష‌న్

Union Public Service Commission (upsc) मे कितने प्रकार की परीक्षाएं होती है :-

संघ लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित की जाने वाली प्रमुख परीक्षाएं इनमें से IAS, IPS, IRS, IES, CMS, NDA, NA, CAPF, IFS, CGS&ge आदि प्रमुख परीक्षाओं का आयोजन यह आयोग करता है

इसके अलावा भी यह सेवा आयोग कई प्रकार की अन्य परीक्षाओं और भर्तियों का भी आयोजन करता है आपको जो ऊपर प्रमुख परीक्षाओं के रूप में शार्ट नाम दिए गए हैं उनका फुल नाम (full form) आपको नीचे सारणी में दिया गया है

Upsc द्वारा आयोजित की जाने वाली प्रमुख परीक्षाओं की full form :-

  1. IAS. Indian Administrative Service भारतीय प्रशासनिक सेवा
  2. IPS. Indian Police Service भारतीय पुलिस सेवा
  3. IRS. Indian Revenue Service भारतीय राजस्व सेवा
  4. IES. Indian Engineer Services भारतीय इंजीनियर सेवा
  5. CMS. Central Medical Service संयुक्त चिकित्सा सेवा
  6. NDA. National Defense Academy राष्ट्रीय रक्षा अकादमी
  7. NA. Naval Academy नौसेना अकादमी
  8. CAPF. Central Armed Police Force केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल
  9. IFS. Indian Forest Service भारतीय वन सेवा
  10. CGS&GE. Combined geo-scientist and geological examinations संयुक्त भूवैज्ञानिक और भूवैज्ञानिक परीक्षाएं
  11. ISS. Indian statistical service भारतीय सांख्यिकीय सेवा परीक्षा
  12. IES. Indian Economic Service भारतीय आर्थिक सेवा
  13. SOSDC. Section Officer / Stenographer (Group A and B) Departmental Competitive अनुभाग अधिकारी/आशुलिपिक (ग्रुप A और B विभागीय प्रतियोगी

Upsc द्वारा आयोजित की जाने वाली प्रमुख परीक्षाएं निम्नलिखित रुप से,

UPSC में कितने सदस्य होते हैं और इन को कौन चुनता है :-

साथियों यूपीएससी में प्रमुख रूप से 10 सदस्य होते हैं और इनका कार्यकाल पूरे 6 साल तक रहता है या फिर इनकी 65 साल की आयु तक इन सभी सदस्यों का कार्यकाल रहता है इन सभी सदस्यों के ऊपर इनका एक चेयरमैन भी होता है

दोस्तों UPSC मैं सदस्य बनने के लिए कम से कम 10 साल तक राज्य या फिर केंद्रीय सेवाओं में कार्य किया हुआ होना चाहिए या फिर कोई व्यक्ति सिविल सेवा में काम कर चुका हूं ऐसे व्यक्ति यूपीएससी की संस्था में सदस्य बनने के लायक होते हैं

संघ लोक सेवा आयोग UPSC के सदस्यों का चयन राष्ट्रपति के द्वारा किया जाता है और यदि बीच में कोई सदस्य अपने पद से इस्तीफा देना चाहता हूं तो वह राष्ट्रपति को इस्तीफा पत्र देकर अपने कार्य से हमेशा के लिए छुट्टी ले सकता है

Union Public Service Commission (UPSC) की परीक्षा कौन कौन दे सकता है उसके लिए क्या योग्यता होनी चाहिए :-

यूपीएससी की परीक्षा देने के लिए योग्य व्यक्ति

> ऐसा छात्र जिसके पास राज्य या केंद्र सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त कॉलेज से ग्रेजुएशन की डिग्री होना अनिवार्य है

> या फिर ऐसे छात्र जो अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री लेने के लिए अंतिम साल में पढ़ रहे हो ऐसे व्यक्ति यूपीएससी की परीक्षा देने के लिए योग्य माने जाते हैं

UPSC की परीक्षा देने के लिए क्या उम्र होना आवश्यक है:-

साथियों Upsc की परीक्षा देने के लिए संपूर्ण भारत में अलग-अलग वर्ग के लिए अलग-अलग उम्र डिसाइड कर रखी है चलिए मे आपको आगे विस्तार सेे बताती हो कि किस वर्ग के लिए कितनी उम्र होना आवश्यक है

  • upsc की परीक्षा देने के लिए किसी भी वर्ग के छात्र का भारतीय नागरिक होना अति आवश्यक है
  • Upsc मैं परीक्षा देने के लिए सामान्य वर्ग यानी जनरल वर्ग के छात्रों के लिए न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 32 वर्ष तक मान्य है और साथ ही सामान्य वर्ग का छात्र अधिकतम 6 बार परीक्षा दे सकता है
  • SC और ST वर्ग के लिए ऊपर दी गई सीमा ही लागू है लेकिन इस वर्ग के छात्रों को ऊपर दी गई सीमा में 5 वर्ष की छूट दी गई है यानी कि SC और ST वर्ग के छात्र की न्यूनतम उम्र 21 वर्ष और अधिकतम उम्र 37 वर्ष की उम्र तक मान्य है लेकिन यह भी इन सभी वर्षों के अंतराल में सिर्फ अधिकतम 6 बार ही परीक्षाएं दे सकते हैं इस वर्ग को बस उम्र में अधिकतम 5 वर्ष की छूट दी गई है
  • अब आता है अन्य पिछड़ा वर्ग यानी obc इस वर्ग के छात्रों के लिए न्यूनतम उम्र 21 वर्ष से लेकर 35 वर्ष की उम्र तक के लिए है इस वर्ग को उम्र में 3 वर्ष की छूट दी गई है और साथ ही इस वर्ग को परीक्षा देने के लिए भी छूट दी गई है इस वर्ग का कोई भी छात्र अधिकतम 9 बार यूपीएससी की परीक्षा दे सकता है

UPSC की परीक्षा कितने चरणों में होती है :-

upsc संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षाएं प्रमुख रूप से तीन चरणों द्वारा संपन्न होती है मैंनेे आपको नीचे तीन चरणों A बी और सी केे द्वारा समझाया है

A) प्रारंभिक परीक्षा :-

  • तो इस प्रकार की प्रारंभिक परीक्षा में 2 पेपर होते हैं और इन दोनोंं पेपर दोस्तों अंक के होते हैं इस पेपर में छात्र को 2 घंटे का समय दिया जाता है
  • इस प्रकार की परीक्षा में किसी भी छात्र का आकलन कुछ विशेष सवालों और तर्क के आधार पर किया जाता है
  • इन परीक्षा में जो छात्र जो नंबर लेकर आता है वह अंतिम परीक्षा के लिए नहीं गिने जाते हैं
  • इस परीक्षा में छात्र के अंको के प्रदर्शन अनुसार उसे अगली परीक्षा के लिए योग्य माना जाता है

B) मुख्य परीक्षा :-

  • इस परीक्षा में भी छात्र का पेपर 200 अंको का होता है
  • इस परीक्षा में पेपर करने के लिए छात्र को 2 घंटे का समय मिलता है
  • मुख्य परीक्षा मैं आने वाले प्रश्न मुख्य रूप से इन विषयों से आते हैं संचार व प्रारंभिक कौशल, विश्लेषणात्मक क्षमता और रिजनिंग, समस्या समाधान समिति, मानसिक क्षमता और प्राथमिक गणित आदि

साक्षात्कार:-

मुख्य परीक्षा की प्रक्रिया पूरी होने के बाद छात्र का इंटरव्यू लिया जाता है जिसमें छात्र से सामान्य ज्ञान के प्रश्न पूछे जाते हैं और साथ ही उसके कौशल और उसकी मानसिक क्षमता का भी आकलन किया जाता है

यह सब प्रक्रिया पूरी होने के बाद छात्र को यूपीएससी की सेवा के लिए चुना जाता है लेकिन UPSC की परीक्षा के लिए हर साल लाखों छात्र फॉर्म भरते हैं लेकिन इसमें से बस कुछ सैकड़ों छात्र ही इस एग्जाम के अंतिम शिखर तक पहुंच पाते हैं तो आप समझ सकते हो upsc क्लियर करना कितना कठिन है इस संपूर्ण एग्जाम की पढ़ाई करने के लिए पहले से ही एक रणनीति बनाना बहुत ही आवश्यक है और साथ ही बहुत अच्छी पढ़ाई करने की बहुत आवश्यकता है

UPSC परीक्षा की तैयारी कैसे करें :-

साथियों यूपीएससी की परीक्षा हमारे देश की सबसेे बड़ी और कठिन परीक्षाओं में से एक है इस परीक्षा को आसान समझने की गलती कभी भी ना करें इस परीक्षा में बहुत ही ज्यादा कंपटीशन भी रहता है साथियों इस Upsc परीक्षा को क्लियर करने का लाखों छात्रों का सपना होता है लेकिन इनमेंं से बस कुछ छात्र ही सालों मेहनत करने के बाद इस परीक्षा के अंतिम शिखर तक पहुंच पाते हैं

UPSC

की परीक्षा में कोई भी छात्र यह नहीं कह सकता की इसमें कहां से प्रश्न आएगा इस परीक्षा में लगभग हर विषय से और हर फील्ड से रिलेटेड प्रश्न आते हैं शायद इसलिए यूपीएससी को हमारे देश की सबसेे कठिन परीक्षा में गिना जाता है

लाखों छात्रों का सपना होता है यूपीएससी को क्लियर करना लेकिन इनमें से बस वही छात्र इस एग्जाम को क्लियर कर पाते हैं जो सही दिशा मैं मेहनत करते हैं और नियमों के साथ इस एग्जाम के लिए पढ़ाई करते हैं यदि आप भी यूपीएससी की परीक्षा क्लियर करना चाहते हैं या इस परीक्षा का हिस्सा बनने का मन बना रहे हो तो मैं आपको नीचे कुछ महत्वपूर्ण बातें बता देना चाहती हो जिनका इस्तेमाल करके आप यूपीएससी की सही तैयारी कर पाएंगे

NCERT का संपूर्ण पर्टन :-

जी हां यदि आपको यूपीएससी क्लियर करना है तो आपको एक बार फिर अपनी पुरानी कक्षाओं के विषयों को दोहराना होगा इसके लिए आपको कक्षा 6 से लेकर कक्षा 12 तक के संपूर्ण किताबों को एक बार फिर से पढ़ना होगा और आपको उन विषयोंं के किताबों पर अधिक ध्यान केंद्रित करना होगा जो यूपीएससी एग्जाम के लिए सुजाए गई है

और इन सब किताबों को आपको दो से तीन बार पढ़नेे की आवश्यकता होगी और आपको इन्हींं किताबों में से वह सभी कठिन प्रश्न और चैप्टर उठाकर पढ़ना होंगे जो सबसे ज्यादा कठिन हो और आपने जो भी किताबों सेे अध्ययन क्या है उसे यदि आप यूपीएससी एग्जाम के समय एक बार फिर से दोहरा लेंगे यानी रिवीजन कर लेंगे तो यह आपकेेेे लिए बहुत अच्छा होगा

(b) कोचिंग ज्वाइन करना :- यदि आप सच में यूपीएससी क्लियर करना चाहते हो तो आपको कोचिंग भी जरूर ज्वाइन करना चाहिए क्योंकि यहां पर आपको प्रैक्टिकल प्रश्न दिए जाते हैं और साथ ही आपको पिछले कई सालों में हुए एक्जाम के पेपर भी मिल जाते हैं जिनके अनुसार आप यूपीएससी के लिए पढ़ाई कर सकते हो और साथ ही कोचिंग में आपको हर नई जानकारी करंट अफेयर्स न्यूज़ और स्टडी मैटेरियल आदि से अपडेट रखा जाता है

और साथ ही यहां पर आपको अपने जैसे कई सारे छात्र भी मिल जाते हैं जिसके कारण यहां पर आपका पढ़ने का माहौल भी बन जाता है हमारे देश में ऐसे कई सारे कोचिंग सेंटर है जहां पर यूपीएससी की तैयारी कराई जाती है लेकिन अब तो समय बदल गया है और आप घर बैठे भी आसानी से Upsc के लिए कोचिंग ज्वाइन कर सकते हो ऑनलाइन कोचिंग सेंटर ढूंढने के लिए आप इंटरनेट की मदद ले

(c) करंट अफेयर्स, gk और न्यूज़ :-

यूपीएससी में कई सारे नए और पुराने सिलेबस से उठाकर प्रश्न दिए जाते हैं और ऐसे प्रश्न की आपको अच्छे से तैयारी करनी होगी और साथ ही यूपीएससी में जो सबसे ज्यादा मायने रखता है वह है करंट अफेयर्स जीके और न्यूज़ इन सब से आपको अच्छे से प्रश्नों की तैयारी करनी होगी क्योंकि यूपीएससी में पुराने सिलेबस से लेकर नई अपडेट तक हर एक फील्ड से रिलेटेड प्रश्नन आते साथियों करंट अफेयर्स, gk, न्यूज़ और मैगजीन अभी से आपको प्रतिदिन रूबरू रहना होगा

और आपको इनका प्रतिदिन अध्ययन करना होगा किताबों केेेे अध्ययन के साथ साथ आप इनका भी अध्ययन जरूर करें क्योंकि ऐसा करने से आपकी UPSC कि अच्छी खासी तैयारी हो जाएगी

(d) 10 से 15 साल पुराना सिलेबस :- जी बिल्कुल आपको यूपीएससी क्लियर करने के लिए के 10 से 15 साल पुराने यूपीएससी के सिलेबस को उठाकर देखना होगा और उसमेंं से पढ़ाई करनी होगी और साथ ही आपको यूपीएससी के 10 से 15 साल पुराने पेपर उठाकर भी देखना होगा

और उसके अनुसार तैयारी करनी होगी यह सब करने से आपको यूपीएससी के लिए एक आईडिया मिल जाता है यूपीएससी में किस प्रकार के प्रश्न पूछें जाते हैं इन सब से आप अपनी यूपीएससी की तैयारी को कई गुना ज्यादा मजबूत बना सकते हो

UPSC क्लियर करने के बाद आपको कहां पर जॉब मिलेगी :-

जैसा कि दोस्तो आप जानतेे हो की यूपीएससी में कई सारे अलग-अलग भर्ती परीक्षाएं होती है तो यूपीएससी क्लियर करने के बाद कहां पर जॉब मिलेगी यह निर्भर करता है कि आपने यूपीएससी के किस पद के लिए परीक्षा दी है जैसे कि यदि आपने यूपीएससी का cse Civil Service Examination दिया है तो आप को कलेक्टर या सचिव आदि पदों के लिए चयनित किया जाएगा

यूपीएससी बहुत सारी परीक्षा सम्मिलित है जैसे IAS, IPS, IRS, IES, CMS, NDA, NA, CAPF, IFS, CGS&ge आदि अब यह आप पर निर्भर करता है कि आपने upsc से संबंधित किस प्रकार की परीक्षा दी है उसी के अनुसार उस परीक्षा को क्लियर करने के बाद आपको उस पद पर चयनित किया जाएगा इसके लिए आप इंटरनेट से अलग-अलग पद से संबंधित संपूर्ण जानकारी उठा सकते हो

संघ लोक सेवा आयोग का मुख्यालय कहां पर है और इसका ऑफिशल संपर्क विवरण :-

UPSC संघ लोक सेवा आयोग का मुख्यालय दिल्ली में स्थित है इसका पूर्ण पता

>डाक का पता :- यूनियन पब्लिक सर्विस कमिशन, धौलपुर हाउस, शाहजहां रोड ,नई दिल्ली -110069 यह यूपीएससी के मुख्यालय का ऑफिशियल पता है

>ईमेल :- upse@gov.in

>वेबसाइट :- upsc.gov.in

>काउंटर सुविधा :- 011-23098543 / 23385271/23381125/23098591

upsc संघ लोक सेवा आयोग का कार्य सुबह 10:00 बजे से शुरू होता है और शाम को 5:00 बजे तक रहता है यूपीएससी केंद्र सरकार के कार्य दिवसों में काम करता है

संघ लोक सेवा आयोग (upsc) अपनी विभिन्न अलग-अलग परीक्षाओं के लिए अलग सुचारू हेल्पलाइन रखता है जो किसी विशेष आवेदन प्रक्रिया के लिए दी जाती है और जो छात्र इन परीक्षाओं में फॉर्म भरते हैं उनको यह सलाह दी जाती है कि जब तक उनके प्रश्नों के उत्तर ऑनलाइन उपलब्ध नहीं हो तब तक वह उनसे संपर्क करने की कोशिश नहीं करें

UPSC से संबंधित पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न :-

(a) विभिन्न प्रकार की यूपीएससी परीक्षा क्या है :- यूपीएससी मुख्य रूप से केंद्रीय और अखिल भारतीय सेवाओं के लिए भर्ती और परीक्षााओं का आयोजन करता है और साथ ही यूपीएससी रक्षा सेवाओं के लिए भी परीक्षाएं और प्रत्यय आयोजित करता है जो नीचे निम्न रूप से है

  • सिविल सेवा परीक्षा (cae)
  • भारतीय आर्थिक और सांख्यिकी सेवा परीक्षा (iss & ies )
  • राष्ट्रीय रक्षा अकादमी परीक्षा (nda)
  • संयुक्त रक्षा सेवा परीक्षा
  • इंजीनियर सेवा परीक्षा (ies)

(b) upsc से संबंधित एग्जाम की तैयारी करने में कितना समय लगता है :-

यूपीएससी से संबंधित एग्जाम की तैयारी करने के लिए कोई निश्चित समय निर्धारित नहीं है क्योंकि यह अलग-अलग छात्रों के शैक्षणिक, पारिवारिक, और मानसिक दृष्टि पर निर्भर करता है इस एग्जाम में कोई छात्र जल्दी सब कुछ याद कर लेता है तो किसी से तैयारी बहुत धीरे-धीरे होती है इसलिए यह निश्चिंत नहीं है की यूपीएससी से संबंधित परीक्षाओं की तैयारी करने में कितना समय लगता है

लेकिन यदि किसी छात्र ने यूपीएससी को क्लियर करने का लक्ष्य बना रखा है या फिर वह छात्र तो सही लगन और सही रणनीति के साथ यूपीएससी एग्जाम की तैयारी कर रहे हैं ऐसे छात्रों के लिए यूपीएससी एग्जाम को क्लियर करने के लिए अधिकतम 2 वर्ष की तैयारी बहुत जरूरी है 2 वर्ष में बस वही छात्र तैयारी कर सकता है जो सही लगन और रणनीति से यूपीएससी से संबंधित परीक्षा की पढ़ाई करता है

(c) एक IAS अधिकारी का महीने का वेतन कितना होता है :-

एक ias अधिकारी की परीक्षा और भर्ती जैसे सभी पड़ाव कंप्लीट करनेेे के बाद आईएएस अधिकारी का सेवा में कार्यरत होने के बाद ₹130000 प्रतिमाह मिलतेे हैं लेकिन यह वेतन अलग-अलग जगह और पोस्टिंग पर भी निर्भर करता है शुरुआत में एक नए ias अधिकाारी को 56100 रुपए और एक मुख्य सचिव को प्रतिमाह लगभग ₹250000 गैर पारिवारिक वेतन मिलता है

(d) क्या यूपीएससी की तैयारी के लिए खुद से ही तैयारी करना सही है या फिर कोचिंग का सहारा लेना चाहिए :- यदि आप कम समय में अधिक पढ़ाई करना चाहते हैं तो आपको कोचिंग का सहारा जरूर लेना चाहिए लेकिन यह जरूरी भी नहीं है कि आपको कोचिंग का सहारा लेना ही है यदि आपको कहीं से सही डायरेक्शन मिल रही है तो आप खुद से भी आसानी से यूपीएससी से संबंधित एग्जाम की तैयारी कर सकते हो

Upsc कोचिंग करने के लाभ :-

कोचिंग में आपको सही लोगोंं का मार्गदर्शन मिल जाता है क्योंकि मार्केट में बहुत सारी किताबें और बहुत सारे ऑनलाइन कोर्स भी बनाए हुए हैं अब इनमें से आपको क्या पढ़ना चाहिए और क्या नहीं यह आपको आपके कोचिंग टीचर बता देते साथ ही आपको कोचिंग में पढ़ने का अच्छा माहौल भी मिल जाता है जिसके अनुसार आप यूपीएससी से संबंधित एग्जाम की जैसे तैयारी कर सकते हो

कोचिंग करने की हानि :-

ऐसी मुसीबत तब आती है जब आप गलत कोचिंग सेंटर का चुनाव कर लेते हो क्योंकि गलत कोचिंग सेंटर ज्वाइन करनेे से आपके बहुमूल्य समय, लगन और पैसों की बर्बादी होगी और साथ ही यदि आप सही लक्ष्य तक नहीं पहुंच पाएंगे तो आपके दिमाग में यूपीएससी एग्जाम से संबंधित गलत छवि बन जाएगी और बाद में आपको इन एग्जाम की तैयारी करने में काफी समय लगेगा इसलिए आपको यदि यूपीएससी एग्जाम के लिए कोचिंग सेंटर की आवश्यकताा पड़ती है तो आप काफी लोगों से राय लेकर अच्छे कोचिंग सेंटर का चुनाव करें

Summery :-

तो मैंने आपको इस संपूर्ण आर्टिकल में यूपीएससी की फुल फॉर्म के साथ साथ यूपीएससी से संबंधित संपूर्ण जानकारी देने की कोशिश की है इसमेंं मैंने आपको यूपीएससी की अलग-अलग परीक्षाएं और भर्तियों से लेकर एक ऑफिसर बनने तक की संपूर्ण जानकारी दी है और मैंने आपके यूपीएससी एग्जाम से संबंधित कई प्रश्नों केेे उत्तर भी दिए है यदि आपको यूपीएससी से संबंधित और कोई भी सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं

यह भी जाने :- JCB फुल फॉर्म